Dog Essay in Hindi | मेरा प्रिय प्राणी कुत्ता - हिंदी निबंध।

कुत्ता सबका प्रिय प्राणी है, कुत्ता यह सबसे ईमानदार प्राणी है और वह घर की रक्षा करता है इसीलिए लोग कुत्ते को पालते है। आज हम मेरा प्रिय प्राणी कुत्ता इस विषय पर हिंदी निबंध लाए है। तो चलिए निबंध शुरू करते है।

This is image of German Shepard Dog and is used for hindi essay on dog

मेरा प्रिय प्राणी - कुत्ता।

कुत्ता एक अत्यंत भावुक प्राणी है, कुत्ते जितना इमानदार कोई भी प्राणी नहीं है। कुत्ता हमेशा अपने मालिक की रक्षा करता है, घर के आस-पास अगर कोई अनजान व्यक्ति दिखे तो कुत्ता भोक कर इशारा देता है। इसीलिए लोग घर में कुत्ता पालते है।

मुझे भी कुत्ते बहुत पसंद है और मुझे कुत्तों के बारे में बहुत सारी जानकारी है। मैंने भी एक कुत्ता पाला है। मेरे कुत्ते का नाम "प्रिंस" है, वह जर्मन शेफर्ड जाति का कुत्ता है। प्रिंस दिखने में बहुत सुंदर है पर वह उतना ही खतरनाक है। उसे देख कर कोई भी अनजान व्यक्ति उसके सामने आने की हिम्मत नहीं करता।

मेरा कुत्ता प्रिंस मेरे पास जब वह बहुत छोटा था तभी से ही है। मुझे कुत्ते बहुत पसंद है इसीलिए मेरे पिताजी ने मेरे जन्मदिन पर मुझे प्रिंस तोहफे के तौर पर दिया था। प्रिंस मेरी अब तक की सबसे प्रिय भेटवस्तू है। अभी प्रिंस को ४ वर्ष पूरे हो गए है, प्रिंस यह कोई प्राणी ना होकर हमारे परिवार का एक हिस्सा है।

प्रिंस सभी का प्रिय है। प्रिंस और मेरी बहुत अच्छी दोस्ती है। जो मैं बोलता हूं वह प्रिंस सब सुनता है, अगर मैंने उसे बैठने के लिए कहा तो वह बैठ जाता है और अगर उठ बोला तो उठ जाता है। अगर मैंने प्रिंस को "छू" बोला और हाथ का इशारा दिया तो वह इशारा मिलते ही सामने खड़े व्यक्ति पर भोक्ता हुआ भगा चला जाता है। और अगर मैंने उसे फिर आवाज़ दी तो वो शांत हो जाता है।

प्रिंस को अगर मैंने कहा शेक हैंड तो वो नीचे बैठ जाता है और अपना हाथ मेरे हाथ पर दे कर अपनी जीप बाहर निकलता है। प्रिंस यह बहुत ही प्यारा कुत्ता है और वह भी मुझ पर बहुत प्रेम करता है।

प्रिंस एक बहुत होशियार कुत्ता है, उसके कान हमेशा खड़े और सतर्क होते है। अगर कोई अनजान व्यक्ति आ जाए तो वो भोक्कर कर तुरंत इशारा दे देता है। उसके नाक की बात तो कुछ अलग ही है, कोई भी चीज का पता उसे अपने नाक से पता चल जाता है। क्रिकेट खेलते वक्त वह बॉल ढूंढ के ला कर देता है।

कभी हम घर से बाहर गए और लौटने के लिए देर हो गई तब भी प्रिंस हमारे आने तक घर की रक्षा करता है। मेरी दादी प्रिंस से बहुत प्यार करती थी, जब मेरी दादी का देहांत हो गया तभी सब रो रहे थे और हमारा प्रिंस भी रो रहा था वह अलग ही आवाज निकाल रहा था जिसे साफ पता चल रहा था कि वो बहुत दुखी है।

ऐसा मेरा कुत्ता प्रिंस बहुत होशियार और ईमानदार प्राणी है। इनकी ईमानदारी और अद्भुत क्षमता के कारण ही पुलिस और आर्मी कुत्ता पालती है। मैं अपने कुत्ते से बहुत प्यार करता हूं और कुत्ता मेरा प्रिय प्राणी है।

समाप्त।

दोस्तों क्या आपने कभी कुत्ता पाला है? और उसका नाम क्या है हमें नीचे comment करके जरूर बताइए l

मेरा प्रिय प्राणी कुत्ता यह हिंदी निबंध class १,२,३,४,५,६,७,८,९ और १० के बच्चे अपने पढ़ाई के लिए इस्तमाल कर सकते है। यह निबंध नीचे दिए गए विषयों पर भी इस्तमाल किया जा सकता है।

  • कुत्ता एक ईमानदार प्राणी।
  • कुत्ता मेरा प्रिय प्राणी।
  • जर्मन शेपर्ड पर हिंदी निबंध।

दोस्तों आपको यह निबंध कैसा लगा और अगर आपको कोई और विषय पर हिंदी निबंध चाहिए तो हमें नीचे comment करके बताइए।

धन्यवाद।

एक टिप्पणी भेजें

10 टिप्पणियाँ